पुष्पा पुष्पा Pushpa Pushpa Lyrics in Hindi - Pushpa 2


 

Song details

The song "पुष्पा पुष्पा" is a powerful anthem that celebrates resilience, determination, and the triumph of the human spirit. With its repetitive yet impactful lyrics, the song creates a mesmerizing rhythm that captivates the listener from the very beginning.

The song starts with the repeated chanting of the word "पुष्पा," creating a hypnotic effect that draws the audience into its world. The repetition of the word symbolizes the persistence and unwavering resolve of the protagonist, who refuses to be defeated by any obstacle.

As the song progresses, the lyrics paint a vivid picture of strength and courage. Lines like "तू दधि पे जो हाथ फेर, सारी दुनिया हिले" evoke images of empowerment and defiance, portraying the protagonist as a force to be reckoned with.

The imagery in the song is rich and evocative, with references to nature and elements like rain, clouds, and mountains. These elements serve to reinforce the message of resilience and endurance, reminding the listener that even in the face of adversity, one can rise above and conquer.

The chorus, with its anthemic quality and soaring melody, serves as a rallying cry for anyone facing challenges or obstacles in their lives. It inspires courage and determination, urging the listener to keep pushing forward no matter what.

The song also pays homage to the divine and acknowledges the support and guidance of higher powers. References to Mahadev, Gurudev, and Mother symbolize the belief in something greater than oneself and the importance of faith in overcoming difficulties.

Overall, "पुष्पा" is a stirring and empowering song that celebrates the indomitable human spirit. Its catchy melody, powerful lyrics, and uplifting message make it a timeless anthem for anyone facing struggles or striving for greatness.

Song title:- Pushpa Pushpa 

Singer's:- Mika Singh Nakash Aziz 
Album:- Pushpa 2 (2024)
Music label:- T-series



Pushpa Pushpa Lyrics in Hindi 

पुष्पा पुष्पा पुष्पा पुष्पा 
पुष्पा पुष्पा पुष्पा
पुष्पा पुष्पा पुष्पा पुष्पा
पुष्पा पुष्पा पुष्पा
पुष्पा पुष्पा पुष्पा पुष्पा 
पुष्पा पुष्पा पुष्पा 
पुष्पा पुष्पा पुष्पा पुष्पा 
पुष्पा पुष्पा पुष्पा 

पुष्पा 
पुष्पा 
पुष्पा 

पुष्पा पुष्पा पुष्पा पुष्पा पुष्पा 
पुष्पा पुष्पा राज 
पुष्पा पुष्पा पुष्पा पुष्पा पुष्पा 
पुष्पा पुष्पा राज 

तू दधि पे जो हाथ फेर 
सारी दुनिया हिले 

पुष्पा पुष्पा पुष्पा पुष्पा पुष्पा 
पुष्पा पुष्पा 

तू कांधे को उठा के चलले 
पड़े न कोई पल्ले 

पुष्पा पुष्पा पुष्पा पुष्पा पुष्पा 
पुष्पा पुष्पा 

आसमाँ से दोगुना 
ऊंचा तेरा कद है 

पुष्पा पुष्पा पुष्पा पुष्पा पुष्पा 
पुष्पा पुष्पा 

इतनी गहरी तेरी 
सागर की क्या हद है 

पुष्पा पुष्पा पुष्पा पुष्पा पुष्पा 
पुष्पा पुष्पा 

हे .. 
बारिशों में भीगी चिड़िया जैसी 
काँपती रहती है ऐसे 
तू रहा तो कैसे जीतेगा 

अरे नाग है तो बाज़ बन जा 
बादलों के पार उड़जा 
हार के बादल तेरे 
पांव के नीचे बरसेगा 

पुष्पा पुष्पा पुष्पा पुष्पा पुष्पा 
पुष्पा पुष्पा पुष्पा राज 
पुष्पा पुष्पा पुष्पा पुष्पा पुष्पा 
पुष्पा पुष्पा पुष्पा राज 
पुष्पा पुष्पा पुष्पा पुष्पा पुष्पा 
पुष्पा पुष्पा पुष्पा राज 
पुष्पा पुष्पा पुष्पा पुष्पा पुष्पा 
पुष्पा पुष्पा पुष्पा राज 

काबिल पुष्पा है लेकिन 
कुछ बातें वो ना जाने 

हार ना जाने 
गुहार ना जाने 
मुड़ना ना जाने 
पिछे हटना ना जाने 

सब पुष्पा में है मगर 
कुछ चीजें उसमें नहीं है 

डर नहीं है 
फ़िकर नहीं है 
झुक जाये रुक जाये 
उसके अन्दर नहीं है 

प्रणाम महादेव को 
सलाम गुरुदेव को 
छूना है तो माँ के छू क़दम 

सर झुकाया तो गुलाम तू 
उठया तो सुल्तान तू 
जिद को अपना ताज बना ले 
राज तेरा होगा कयाम 

पुष्पा पुष्पा पुष्पा पुष्पा पुष्पा 
पुष्पा पुष्पा राज 
पुष्पा पुष्पा पुष्पा पुष्पा पुष्पा 
पुष्पा पुष्पा राज 
पुष्पा पुष्पा पुष्पा पुष्पा पुष्पा 
पुष्पा पुष्पा राज 
पुष्पा पुष्पा पुष्पा पुष्पा पुष्पा 
पुष्पा पुष्पा राज 

वो जो पाओं के ऊपर पाओं को 
राखे और बैठे 

वो चट्टान जिस पे 
वो बैठे सिंहासन बन जाए 
जो सिंहासन हो पल भर में 
वो चट्टान बन जाए 

वो जो हाथ के ऊपर 
हाथ रख के 
वादा भी कर दे 

बंदूक से निकली हुई 
गोली बन जाये 
जो निकल गयी एक बार 
तो वापस कभी नहीं आये 

अरे कौन तुझसे ताकतवर है 
कौन तुझ से भी ऊपर है 
तू ही तेरा नायक है रे चल 

हे ना कोई एहसान लेना 
ना कोई पहचान लेना 
हिम्मत से ये नाम अपना 
तू ब्रांड में बादल 

पुष्पा पुष्पा पुष्पा पुष्पा 
पुष्पा पुष्पा पुष्पा पुष्पा 

पुष्पा पुष्पा पुष्पा पुष्पा पुष्पा 
पुष्पा पुष्पा राज 
पुष्पा पुष्पा पुष्पा पुष्पा पुष्पा 
पुष्पा पुष्पा राज 
पुष्पा पुष्पा पुष्पा पुष्पा पुष्पा 
पुष्पा पुष्पा राज 
पुष्पा पुष्पा पुष्पा पुष्पा पुष्पा 
पुष्पा पुष्पा राज 
पुष्पा पुष्पा पुष्पा पुष्पा पुष्पा 
पुष्पा पुष्पा राज 
पुष्पा पुष्पा पुष्पा पुष्पा पुष्पा 
पुष्पा पुष्पा राज 
पुष्पा पुष्पा पुष्पा पुष्पा पुष्पा 
पुष्पा पुष्पा राज 

हरगिज़ झुकेगा नहीं साला


टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

Pher Bhi Pasand Hun Toh Teri Marzi lyrics in Hindi | Dhanda Nyoliwala

Vida Karo Song Lyrics - विदा करो | Arijit Singh, Jonita Gandhi |

Vigdiyan heeran song lyrics in hindi - Yo yo honey Singh | विगड़ियाँ हीरां